Home / G-H / Hindi Health Tips / स्वस्थ जीवन शैली आपको रखे बीमारियों से दूर – जाने कैसे

स्वस्थ जीवन शैली आपको रखे बीमारियों से दूर – जाने कैसे

अस्वस्थ जीवन शैली यानी समय से खाना ना खाना, बाहर का तला भुना खाना, समय से ना सोना, समय से ना जागना, व्यायाम ना करना। या यूँ कहें की किसी भी काम को तय समय अनुसार ना करते हुए आज के जीवनशैली के हिसाब से करना।

आजकल बढ़ती बीमारियों का सबसे बढ़ा कारण यही है और इस तरह की जीवन शैली इंसान अधिक बीमार बना रही है।

लोगों को नई-नई बीमारियाँ हो रही हैं।

देश के बड़े-बड़े चिकित्सक विशेषज्ञों अनुसार स्वस्थ जीवन जीने के लिए जरूरी सलाह –

  • नियमित रूप से शरीर की पूरी जाँच करायें – अस्वस्थ जीवनशैली और पारिवारिक पुरानी बीमारी दोनों को ध्यान में रखते हुए अपने स्वास्थ की नियमित जाँच कराते रहें। अपने डॉक्टर को पारिवारिक बीमारी के बारे में बताएं और उसके लक्षण भी देखें कि कहीं आप उससे पीड़ित होने वाले तो नहीं।
  • स्वस्थ आहार (हेल्थी डाइट) – हम प्रतिदिन बाहर का फास्ट फूड, जंक फूड, अधिक ऑयली खाना खाते हैं। ज्यादा तला भुना ऑयली खाना सीधे हमारे हृदय, दिमाग और संपूर्ण स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। स्वस्थ रहने के लिये हमें प्रतिदिन के खाने में हरी सब्जियाँ, फल, अंकुरित बीज और सलाद का सेवन करना चाहिये। इनसे शरीर को आवश्यक पौषक तत्व मिल जाते हैं और हम रोग ग्रस्त नहीं होते।
  • रोज़ाना व्यायाम – आपका दिल अच्छे से काम करे। हमेशा प्यार से धड़कता रहे इसके लिये जरूरी है कि आप हर दिन खुली स्वच्छ हवा में व्यायाम (Exercise)करें। व्यायाम के कई विकल्प आपके पास है जैसे खुले में चलना, दौडना, साइकिल चलाना, तैराकी आदि। चलना (Walking) सबसे अच्छा व्यायाम है। प्रतिदिन कम से कम 10 मिनट चलने से आपका स्वास्थ्य एक दम सही रहेगा।

ssohm-health-tips-care-tips

  • वजन कम करें – अधिक मोटापा शरीर के लिए हानिकारक होता है। मोटा शरीर जानलेवा बीमारियों का घर होता है। इसलिए यदि आप पूरी तरह स्वस्थ रहना चाहते हैं तो सबसे पहले बढ़े हुए वज़न को घटाएं। वज़न घटाने के लिए अधिक कैलोरी वाला खाना ना खायें, व्यायाम करें। इससे आप सभी गंभीर बीमारियों को अपने से दूर कर देंगे।
  • तनाव को कम करें – तनाव शरीर में कई बीमारियों को निमंत्रण देता है। इससे दिमागी बीमारियां सबसे ज्यादा होती हैं। किसी भी प्रकार के तनाव में ना रहें। इससे आप अस्वस्थ रह सकते हैं।

 अगर आप बहुत ज्यादा तनाव में हैं तो अपने परिवार और दोस्तों के साथ वक्त बिताएं।

खाने पीने का ध्यान रखें।

नींद अच्छी तरह लें और व्यायाम भी करें। इस सबसे निश्चित ही आपका तनाव कम होगा।

healthy-lifestyle

जो लोग अपने घर में बुजुर्गों और बच्चों की देखभाल करते हैं उनके लिये सबसे महत्वपूर्ण सलाह

कि आप अपनी हेल्थी डाइड, एक्सरसाइज़ और नींद का पूरा ध्यान रखें।

About SSOHM

SSOHM is a health center established in 1990 by Dr. R.K Aggarwal for relieving all the sufferers in the world from there disease naturally. From last 23 years SSOHM is successfully providing homoeopathy treatment for all kind of diseases.. SSOHM periodically arrange free health campaigns for sufferers all over the India. Now we are also providing Free Online Consultation by a team of specialized doctors representing SSOHM in the web world.

Check Also

5 Causes of Abdominal Pain

5 Causes of Abdominal Pain Detailed by Dr R K Aggarwal – SSOHM

Most of the times the pain is not so serious and get cured in few …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *